Advertisement:
जांजगीर-चांपा

मृत्यु प्रमाण पत्र बनने के बाद कम पैसा देने पर फाड़ा कागज, जनपद सीईओ से लगाई गुहार  

जांजगीर जिला के पामगढ़ जनपद में एक सचिव ने पैसे कम देने पर परिजन द्वारा मांगी गई मृत्यु प्रमाण पत्र को फाड़ दिया साथ ही नहीं बनाने की बात कही| इसकी शिकायत सरपंच से करने पर भी बात नहीं बनी। परिजन अब इसकी शिकायत पामगढ़ के जनपद पंचायत सीईओ से करने जा रहा है| मामला ग्राम पंचायत धनगांव का है।

ग्राम पंचायत धनगांव शिकारी डेरा निवासी सुमित शिकारी पिता वेदराम कि मृत्यु 23 नवंबर 2022 को फांसी लगाने से हुई थी। जिसका मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए उसके परिजन शंभू शिकारी ने ग्राम पंचायत सचिव प्रमिला को दिया था। मृत्यु प्रमाण पत्र बनने के बाद प्रमिला ने परिजन से ₹2000 की मांग की थी। जिस पर उसके परिजन शंभू ने सचिव को ₹1000 दिए थे| जिससे सचिव भड़क गई और उसके सामने ही मृत्यु प्रमाण पत्र को फाड़ दिया और अब नहीं बनाने की धमकी दी। जिसकी शिकायत लेकर शंभू ग्राम पंचायत सरपंच प्रतिनिधि भूपेंद्र सिंह ठाकुर के पास पहुंचे। लेकिन सचिव प्रमिला ने सरपंच की बात को भी दरकिनार कर दिया| जिससे परेशान होकर परिजन शंभू ने जनपद पंचायत पामगढ़ के सीईओ से शिकायत करने पहुंचा है।

खबर लिखे जाने तक ग्रामीण की सीईओ से मुलाकात नहीं हुई थी वही जब पत्रकारों द्वारा सचिव को फोन लगाकर इस संबंध में जानकारी चाहिए लेकिन सचिव ने फोन ही तक नहीं उठाया।

Related Articles

Back to top button